रानी मुखर्जी से बात करते हुए इमोश्नल हुए किंग खान, कहा- घर खाने को दौड़ता…

0
3
views

नई दिल्ली: शाहरुख खान बॉलीवुड ही नहीं बल्कि दुनियाभर में न जाने कितने ही दिलों की धड़कन हैं. उनके हजारों-लाखों फैंस हैं जो उनके जैसा बनना चाहते हैं और कहीं न कहीं उन सब के लिए उनकी लाइफ एक परफेक्ट लाइफ है. अगर कोई आपसे कहे कि उनके जीवन में भी कुछ ऐसी हिचकियां जिनसे वो उबरने में उन्हें वक्त लगा तो आपको एक बार तो हैरानी जरूर होगी लेकिन ये सच है.

गौरी खान ने 1,800 बोतल से डिजाइन किया बार, देखें खूबसूरत तस्वीरें

जी हां, हाल ही में अपनी आने वाली फिल्म हिचकी के लिए रानी मुखर्जी ने शाहरुख खान एक छोटा सा इंटरव्यू लिया और इस दौरान उन्होंने किंग खान ने बताया कि उनके जीवन में भी कई हिचकियां रही हैं. बकौल किंग खान, ”मेरे जीवन की सबस बड़ी हिचकी थी जब मैंने केवल 14 वर्ष की उम्र में अपने पिता और 24 वर्ष की उम्र में अपनी मां को खो दिया था. मैं उस वक्त छोटा था और इस मुश्किल दौर में खुद को और अपने परिवार को संभालना मेरे काफी मुश्किल था.अपने माता-पिता को खो देने के बाद मुझे और मेरी बहन को हमारा घर खाने को दौड़ता था. हमें बस लगता था कि किसी तरह इस कमी को भर दें.”

शाहरुख खान से जुड़ी लेटेस्ट अपडेट के लिए क्लिक करें 

इतना ही नहीं थोड़ा भावुक होने के बाद किंग खान अपने करियर के उस दौर को याद किया जब अपने माता-पिता को खो देने के बाद उन्हें तमाम मुश्किलों के बीच अपने करियर पर फोकस करना पड़ा. खास बात ये है कि शाहरुख ने इन हालातों को नकारात्मता से देखने के बजाए एक सकारात्मक रूप में इख्तियार किया. शाहरुख बताते हैं, मां के गुजर जाने के बाद मेरे पास अपने करियर पर फोकस करना एक अहम चुनौती थीत. तब मेरे काम ने ही मुझे आगे बढ़ने और इस गम से उबरने की हिम्मत दी. मैं हमेशा कोशिश करता हूं कि जो भी इमोशन्स मैंने अपने माता-पिता से सीखे हैं वो अपने काम के जरिए बाहर ला सकूं.”

… जब हॉलीवुड स्टार्स के साथ सेल्फी लेने के लिए बेताब हुए किंग खान

आपको बता दें कि बेटी के आदिरा के जन्म के बाद रानी मुखर्जी फिल्म ‘हिचकी’ से डेब्यू कर रही हैं. फिल्म यशराज बैनर तले बनी है इसका निर्देशन सिद्धार्थ मल्होत्रा ने किया है. फिल्म 23 मार्च को रिलीज होगी.

Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here