New Process To Thwart Liver Cancer Cells Treatment Rp | लिवर कैंसर का इलाज मुमकिन, वैज्ञानिकों के हाथ लगी बड़ी कामयाबी!

0
4
views
लिवर कैंसर का इलाज मुमकिन, वैज्ञानिकों के हाथ लगी बड़ी कामयाबी!

वैज्ञानिकों ने लिवर कैंसर जैसे जानलेवा मर्ज का इलाज लगभग ढूंढ लिया है. लिवर कैंसर की कोशिकाओं को मारकर ट्यूमर को आगे न बढ़ने देना ही इलाज का नया रास्ता निकाल सकता है. यह मानना है लिवर कैंसर के रिसर्च में जुटे वैज्ञानिकों का.

सेल्युलर एंजाइम के खात्मे पर जोर

इस अहम शोध में लगे रिसर्चरों ने प्रक्रियाओं की जानकारी दी है. इसके तहत सबसे पहले सेल्युलर एंजाइम को निष्क्रिय करना है. बाद में कोई शक्तिशाली दवा देकर कैंसर सेल को खत्म करने पर शोध चल रहा है.

यूनिवर्सिटी ऑफ डेलवेयर के रिसर्चरों के मुताबिक, वैज्ञानिकों की यह कोशिश लिवर कैंसर के इलाज में बड़ा रोल निभा सकती है. फिलहाल इस रोग का इलाज मुश्किल है. लिवर कैंसर का उपचार ऑपरेशन से करना मुश्किल है और जो  दवाएं मौजूद हैं भी वे कारगर नहीं. ऐसे में यह शोध कैंसर के इलाज में नया रास्ता दिखा सकता है.

नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ के आंकड़ों की मानें तो कैंसर के निदान के 5 साल के अंदर लगभग 82 फीसद मरीज मर जाते हैं. लेकिन वैज्ञानिकों को लगता है कि आगे चलकर इस बीमारी का इलाज ढूंढा जा सकता है.

लिवर कैंसर के लक्षण

-बिना डायटिंग वजन घटने लगे तो यह गंभीर लक्षण हो सकता है.

-लिवर कैंसर में पेट फूलने जैसा लक्षण सामने आ सकता है. कैंसर बढ़ने से लिवर भी बढ़ जाता है. इस कारण पेट के दाहिने हिस्से में सूजन दिख सकती है. ऐसा पेट में पानी जमा होने के कारण होता है.

-स्किन का पीला पड़ना और आंखों का सफेद होना इस बीमारी के संकेत हो सकते हैं. हालत बिगड़ने पर खुजली भी होती है. इससे पता चलता है कि लिवर सही ढंग से काम नहीं कर रहा या बाइल डक्ट में रुकावट आ रही है.

-भूख में कमी, कमजोर पड़ना, हल्का खाना लेने के बाद भी पेट काफी भरा होना लगना, खुजली, हेपेटाइटिस या सिरोसिस जैसे लक्षणों के साथ सेहत का बुरी तरह बिगड़ना.

-शरीर का तापमान काफी बढ़ जाना और पसीने आना.

कब दिखाएं डॉक्टर को

-जब स्किन और आंखें पीली पड़ने लगें

-खून की उल्टी होने लगे

-पेट का फूलना और पीड़ा महसूस होना

मुख्य उपचार ये हैं

-रीसेक्शन सर्जरी से कैंसर ट्यूमर हटाना

-लिवर ट्रांसप्लांट

-बायोलॉजिकल थेरेपी

-कीमोथेरेपी

-सीधे लिवर में कीमोथेरेपी (कीमोइम्बोलाइजेशन)

-रेडियो फ्रीक्वेंसी एबलेशन (आरएफए)

-रेडियोथेरेपी

(इनपुट एएनआई और वेबसाइटों से)

 



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here