सुपरस्टार श्रीदेवी को श्रद्धांजलि देने यूपी से मुंबई पहुंचा फैन, कभी लाखों की मददकर बचाई थी इनके भाई की जान

1
12
views

<p style=”text-align: justify;”><strong>नई दिल्ली:</strong> मशहूर एक्ट्रेस और पहली महिला सुपरस्टार श्रीदेवी का शनिवार रात को दुबई के जुमैराह एमिरेट्स होटल में निधन हो गया था. वे एक पारिवारिक विवाह समारोह में शामिल होने दुबई पहुंची थीं. दुबई में फैमिली मैरिज अटेंड करने गईं श्रीदेवी को अचानक दिल का दौरा पड़ने से मौत हो गई थी. अचानक आई इस खबर ने सबको सकते में डाल दिया. बॉलीवुड समेत श्रीदेवी के करोड़ों फैन्स शोक में हैं. उनके निधन ने आम से लेकर खास तक को सदमे में डाल दिया था.</p>
<p style=”text-align: justify;”>जब से यह खबर आई है तब से मुंबई में श्रीदेवी के बाहर उनके लाखों फैन्स का जमावड़ा लगा हुआ है. कुछ फैन्स तो ऐसे थे जो उनको आखिर बार देखे बगैर श्रीदेवी के घर से हटना ही नहीं चाह रहे हैं. इसी बीच एक ऐसे फैन को भी देखा गया जिसके काफी यादें श्रीदेवी से जुड़ी हुई थी. इस फैन का नाम जतिन वाल्मिकी है.</p>
<p style=”text-align: justify;”>जतिन ने मीडिया से बताया कि श्रीदेवी जी ने मेरे भाई के ब्रेन ट्यूमर के ऑपरेशन के लिए मदद की थी. उस समय उन्होंने मुझे 1 लाख की मदद की और अस्पताल से 1 लाख माफ भी करवाए. आपको बता दें कि जतिन यूपी का रहना वाला है और करीब वो बीते दो दिन से श्रीदेवी को आखिरी विदाई देने के लिए उनके घर के बाहर इंतजार कर रहा है.</p>
<p style=”text-align: justify;”>आगे जतिन बताते हैं कि उनकी वजह से मेरा भाई आज जिंदा हैं. उन्होंने कहा कि मैं कुछ नहीं कर सकता उनके लिए, लेकिन मैं कम से कम उनकी अंतिम यात्रा में तो शामिल हो ही सकता हूं. यही सारी वजह है जिनकी चलते श्रीदेवी के लाखों-करोड़ों की संख्या में फैन्स हैं.</p>
<p style=”text-align: justify;”>बता दें कि दिवंगत बॉलीवुड अभिनेत्री श्रीदेवी का पार्थिव शरीर लोखंडवाला स्थि‍त घर ग्रीन एकड्स में रखा गया है. श्रीदेवी के परिवार के मुताबिक श्रीदेवी का अंतिम संस्कार आज दोपहर 3:30 बजे विले पार्ले के श्मशान घाट में किया जाएगा. उससे पहले सुबह 7 बजे से दोपहर 12:30 तक उनके अंतिम दर्शन को श्रद्धांजलि देने के लिए रखा गया हा. फैमस बॉलीवुड अभिनेत्री श्रीदेवी का पार्थिव शरीर कल दुबई से मुंबई पहुंचा था.</p>

Source link

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here