Sardar Singh Believes In His Return To World Cup And Asian Games 2018 – मैं फास्ट तो कभी था ही नहीं, सधे खेल में रहा हमेशा यकीन : सरदार सिंह

0
6
views


सत्येन्द्र पाल सिंह, अमर उजाला, नई दल्ली
Updated Fri, 16 Feb 2018 10:42 AM IST

सबसे अनुभवी मिडफील्डर सरदार सिंह को एशिया कप के बाद से नए डच हॉकी उस्ताद सोएर्ड मराइन की खिलाड़ियों को बारी-बारी से आजमाने की नीति के चलते भारत की सीनियर हॉकी टीम से बाहर रखने पर उनके भविष्य को लेकर जितने मुंह उतनी बातें। सरदार मैदान पर अपनी ‘सरदारी’ दिखाकर हमेशा इसका जवाब देते हैं। सरदार की ताकत मैदान पर अपने अनुभव का धैर्य से इस्तेमाल करते हैं। उनके कुछ आलोचक यह कह रहे हैं कि वह अब धीमे पड़ गए हैं।

सरदार से यहां बुधवार को ‘अमर उजाला’ ने इस बाबत जानना चाहा तो  वह बड़ी साफगोई से बोले, ‘मैं कभी फास्ट था ही नहीं, मेरा यकीन मैदान पर हमेशा मेरे सधे खेल में रहा है। मुझे 2018 में होने वाले एशियाई खेलों और विश्व कप जैसे सभी बड़े टूर्नामेंट में देश के लिए खेलने का पूरा भरोसा है।

खासतौर पर एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीतकर हम सीधे टोक्यो में 2020 के ओलंपिक के लिए क्वॉलिफाई कर लेंगे तो फिर इसकी तैयारी के लिए पर्याप्त मौका मिल जाएगा। तब भी इसमें खेलने के लिए खुद को तैयार कर सकूंगा क्योंकि मेरा मानना है कि मुझमें अभी काफी हॉकी बाकी है। 2019 में ज्यादा टूर्नामेंट नहीं हैं। ऐसे में सीधे ओलंपिक के लिए क्वॉलिफाई करने पर हमारी टीम टोक्यो ओलंपिक के लिए सही रणनीति तैयार कर सकेगी।’





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here